विकियात्रा से
Jump to navigation Jump to search
यात्रा चेतावनी चेतावनी: इराक में राजनीतिक स्थिति बेहद अस्थिर बनी हुई है, भले ही युद्ध को आधिकारिक तौर पर दिसंबर 2017 में घोषित किया गया था। वहां यात्रा करना बेहद खतरनाक और दृढ़ता से हतोत्साहित करता है। सभी विदेशी अभी भी अपहरण, हत्या और सामान्य सशस्त्र हिंसा के खतरे में हैं। कुर्दिस्तान के स्वायत्त क्षेत्र को छोड़कर इराक के लिए पर्यटन वीजा नहीं दिया जा रहा है। हालाँकि पूर्वोत्तर प्रांत जिनमें इराकी कुर्दिस्तान शामिल है, उन्हें विदेशियों के लिए अपेक्षाकृत माना जा सकता है, त्रुटियों के लिए मार्जिन छोटा है। देश में कहीं भी छिटपुट हिंसा हो सकती है।

यदि यात्रा करना आवश्यक है, तो हर समय सतर्क रहें, और जाने से पहले अपने दूतावास से परामर्श करें। अधिक जानकारी के लिए, युद्ध क्षेत्र सुरक्षा देखें।

(जानकारी का अंतिम अद्यतन फर॰ २०१८)

इराक मध्य-पूर्व एशिया में स्थित एक देश है। इसके दक्षिण-पूर्व की ओर 58 किलोमीटर का बहुत छोटा सा समुद्र तट से जुड़ा इलाका है। यह पूर्व की ओर से ईरान की सीमा से घिरा है, इसके दक्षिण में कुवैत और दक्षिण-पश्चिम में सऊदी अरब, पश्चिम में जॉर्डन, उत्तर पूर्व में सीरिया, और उत्तर में तुर्की है।

क्षेत्र[सम्पादन]

इराक के क्षेत्र का रंगीन नक्शा
अल जजीरा
यह क्षेत्र बगदाद के उत्तर और उत्तरपश्चिम में स्थित है। यहाँ अस्सुर नामक स्थान भी है, जो -2500 वर्ष के आसपास का हो सकता है। इसके बारे में लगभग 14वीं सदी को ज्ञात हुआ था और यह युनेस्को के विश्व धरोहरों की सूची में शामिल है। इसी तरह हातरा भी इसी सूची में अन्तर्भूत था, जिसे 2015 में पूरी तरह नष्ट कर देने के कारण इस सूची से हटा दिया गया।
बगदाद के इलाके
इनमें वे सभी इलाके आते हैं, जो बगदाद के केंद्र से बाहर निकलती हैं, जिसमें कस्बे, नगर आदि शामिल है।
इराकी रेगिस्तान
यह देश के पश्चिम व दक्षिण-पश्चिम के विशाल खाली बंजर भूमि है। अल अंबर प्रांत भी इसी क्षेत्र में स्थित है। इसका हाल भी वैसा ही है, जैसे चारों ओर से घिरे बड़े बड़े रेगिस्तान वाले क्षेत्रों का होता है। यहाँ सड़कों का हाल काफी खराब है और भूमि में छुपे हुए बम भी होते हैं, जो इस मार्ग को काफी खतरनाक बना देते हैं।
इराकी कुर्दिस्तान
कुर्दिश लोगों का घर और मुख्य रूप से एक अलग सरकार द्वारा संचालित जगह है। इसे इराक़ का सबसे सुरक्षित क्षेत्र भी माना जाता है। यह एक पहाड़ी क्षेत्र है जिसमें आपको कई खूबसूरत दृश्य देखने को मिलेंगे। यदि इसके मौसम की तुलना करें तो इराक़ के अन्य भागों की तुलना में काफी हल्का है, अर्थात अन्य क्षेत्रों की तुलना में अधिक वर्षा, गर्मी या ठंड नहीं होती है।
निचला मेसोपोटामिया
यहाँ कई प्रमुख और पवित्र स्थल मौजूद हैं, इन जगहों में करबला, नजफ, बसरा और नसीरिया आदि शामिल है। इन जगहों में कई प्राचीन सभ्यताओं के अवशेष मौजूद है।

परिचय[सम्पादन]

LocationIraq.png
राजधानी बग़दाद
मुद्रा इराकी दीनार (IQD)
जनसंख्या ३८.२ million (2017)
बिजली २३० वॉल्ट / ५० हर्ट्ज़ (Europlug, AC power plugs and sockets: British and related types, BS 1363)
कालिंग कोड +964
समय मंडल यूटीसी+३, यूटीसी+४
आपात सेवायें 112, 104 (पुलिस), 115 (अग्निशमन विभाग), 122 (emergency medical services), 100
ड्राइविंग साइड right
edit on Wikidata

इतिहास[सम्पादन]

जगरोस, इराक के पहाड़ों के मध्य सड़क का दृश्य

यह पृथ्वी की कई प्राचीन सभ्यताओं का जन्मस्थान है। यह -6वीं सदी में फारसी साम्राज्य का हिस्सा था। वर्ष 1918 में यह ब्रिटिश के नियंत्रण में आ गया था। वर्ष 1932 में यह स्वतंत्र हो गया।

जलवायु[सम्पादन]

इसका ज्यादातर हिस्सा रेगिस्तान है, पर दो प्रमुख सदावाहिनी नदियों के कारण यह देश पूरी तरह से रेगिस्तान भी नहीं है। देश के उत्तर का अधिकांश हिस्सा पहाड़ी भूमि के रूप में है। सबसे ऊँचा शिखर 3,611 मीटर (11,847 फीट) ऊँचाई वाला है। नक्शे में इस जगह का कोई नाम नहीं है, लेकिन स्थानीय निवासी इसे चीका दार कहते हैं। इराक का बहुत छोटा सा भाग समुद्री तट से जुड़ा हुआ है, जिसकी लंबाई मात्र 58 किलोमीटर ही है।

मौसम[सम्पादन]

मंसूल, इराक के पहाड़ों का दृश्य

इराक के अधिकांश भाग शुष्क जलवायु वाले होते हैं और ग्रीष्म ऋतु में औसत तापमान 40°C के आसपास ही रहता है और अक्सर यह 48°C से अधिक हो जाता है। शीत ऋतु में तापमान कभी कभी 21°C से भी नीचे चला जाता है और ज्यादातर रात के समय 15°C से 16°C के आसपास ही तापमान रहता है। आमतौर पर वर्षा कम होती है और ज्यादातर इलाकों में 250 मिलीलीटर वार्षिक वर्षा होती है। नवम्बर से अप्रैल के मध्य सबसे अधिक वर्षा होती है। देश में उत्तरी भाग को छोड़ दिया जाये तो गर्मियों में वर्षा ना के बराबर होती है।

लोग[सम्पादन]

यहाँ के लोग अपने आप को अरब मानते हैं। इस्लाम और अरबी भाषा का प्रसार एक साथ सातवीं शताब्दी को शुरू हुआ। उत्तर के इलाके को छोड़कर सभी लोग (72%-75%) अरबी भाषा बोलते हैं। उत्तर में मुख्यतः चार प्रकार के लोग रहते हैं: कुर्द (20%), तुर्कमान: (2%), असीरियन: (2%) और यज़ीदी। अरबी और कुर्दी अधिकारिक भाषाएँ हैं हालाँकि, अरबी लगभग हर कोई समझता है। 99 प्रतिशत जनता इस्लाम धर्म को मानती है।

यात्रा[सम्पादन]

इराक में कदम रखने से पहले ही आपको वीजा की आवश्यकता होगी। अमेरिका के रक्षा विभाग में कार्य करने वाले लोगों को इस वीजा की नीति से छूट दी गई है, जब तक की उनके पास रक्षा मंत्रालय द्वारा दिया गया कार्ड होगा, वे तब तक बिना वीजा के भी आ सकते हैं। लेकिन यह भी तभी संभव है यदि आप सेना की ओर से वहाँ सेना के विमान द्वारा ही जाओ। यदि आप बगदाद हवाई अड्डे पर बिना वीजा के चले गए तो आपको वहाँ से वापस भेज दिया जाएगा।

वे लोग जो बिना वीजा के देश में घुस आते हैं, उन लोगों को 80 डॉलर में केवल एक घंटे के लिए आने की अनुमति मिल सकती है। यदि आप वीजा प्राप्त करना चाहते हैं तो हो सकता है कि आपको अधिक समय लगे। वीजा प्राप्त करने में सामान्यतः अधिक समय ही लगता है, तो प्रतीक्षा करने के लिए तैयार रहें। आपको अपने बारे में और आप इराक में क्या व्यापार करते हैं आदि की जानकारी दस्तावेज़ के साथ देनी होगी। कंपनी या सरकार द्वारा प्रमाणित पत्र भी अच्छा रहेगा।

यात्रा करने के लिए वीजा लेना बहुत कठिन है और समय भी काफी ले लेता है। इसके लिए आपको इराक के स्थानीय दूतावास से आवेदन लेना पड़ेगा। सभी आवेदन बगदाद में देने होते हैं। यदि आपको वीजा मिल भी गया तो भी हो सकता है कि आपको इराक में आने के बाद प्रवेश करने से मना कर दिया जाये। वीजा आपको पहले ही इराकी दूतावास से लेनी पड़ती है।

विमान द्वारा[सम्पादन]

बगदाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा

बगदाद के मध्य से आपको लगभग 16 किलोमीटर की दूरी पर बगदाद अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा मिलेगा। युद्ध के दौरान यह क्षतिग्रस्त हो गया था, लेकिन इराक के इन युद्धों से संभलने के बाद इसे वापस ठीक कर लिया गया और अब यह पूरी तरह से कार्य करने के लायक बन चुका है।

इराकी एयरलाइन यहाँ का राष्ट्रीय विमान प्रदाता कंपनी है। यह मुख्य रूप से देश में ही विमान सुविधा उपलब्ध कराती है, लेकिन इसकी कुछ विमानें बाहर के कुछ देशों में भी जाती हैं। इनमें यूरोप, एशिया आदि के देश शामिल है। यदि इराकी विमान के अलावा आप किसी अन्य विमान द्वारा यूरोप से बगदाद आना चाहते हो तो आप ऑस्ट्रेलिया या तुर्की एयरलाइन से भी आ सकते हैं। ऑस्ट्रेलिया का विमान विएना से सप्ताह में चार बार और तुर्की विमान इस्तानबुल से प्रतिदिन आता है। मध्य पूर्व से रॉयल जॉर्डन एयरलाइन अमान से हर दिन आना जाना करती है। अमीरात और फ्लायदुबई दोनों दुबई से बगदाद हर दिन आते हैं।

रेल द्वारा[सम्पादन]

लगभग 20 वर्षों से रेल सेवा ठप पड़ी थी। इसे बाद में शुरू किया गया। इसमें सप्ताह में एक बार चलने वाली रेल को ही रखा गया था, जो गाजियांटेप से होते हुए मोसुल में आती है। यह सीरिया में थोड़ी देर रहती भी है। यह हर गुरुवार के दिन रात 9 नाके गाजियांटेप से मोसुल के लिए निकलती है और 2 बजे मोसुल तक आती है। इराक में रेल द्वारा आने का बस यही तरीका है। लेकिन रेल विभाग ने अनुरोध पर इसे बंद कर दिया गया। जब तक इसे शुरू करने का निर्देश नहीं आ जाता, तब तक यह सेवा बंद ही रहेगी।

कार द्वारा[सम्पादन]

कार से किसी दूसरे देश जाना बहुत ही खतरनाक हो सकता है। आप कार के साथ यदि सीमा के पास जाते हैं तो आपको अपने कार को वहीं छोड़ने के लिए बोला जाता है और आपको बख्तरबंद गाड़ी में ले जाया जा सकता है, यदि आपने इसे किराए पर लिया हो। यदि आपको और अधिक सुरक्षा की आवश्यकता लगे तो आप इसके साथ किसी सुरक्षाकर्मी को भी ले जा सकते हो। यह सारा काम ब्रिटिश सुरक्षा कंपनी करती है। इसके लिए आपको उस ब्रिटिश कंपनी को लगभग 460 अमेरिकी डॉलर देना होगा।

बस द्वारा[सम्पादन]

आप जॉर्डन से बस के द्वारा इराक में आ सकते हो, लेकिन इसके लिए आपको अम्मान से बस में चढ़ना होगा। अन्य देशों की बस सेवा के द्वारा भी आप इराक में आ सकते हो। इसके अलावा कुछ अन्य देशों ने भी कार्य के वजहों से आने की अनुमति हासिल कर ली है। इस तरह की बसें मुख्यतः कुवैत से रवाना होती हैं।

घूमना[सम्पादन]

इराक में ईंधन काफी सस्ता है। इस कारण किराए में गाड़ी लेना एक अच्छा फैसला हो सकता है। इसके अलावा आप अपनी गाड़ी का भी उपयोग कर सकते हैं या किसी गाड़ी चलाने वाले को भी गाड़ी चलाने बोल सकते हैं। यदि आप किराए में गाड़ी ले रहे हैं और उसके साथ चलाने वाले को नहीं ले रहे कि उससे अधिक पैसे खर्च हो जाएँगे तो ऐसा नहीं है। यदि आप ही गाड़ी चलाओगे तो भी आपको उतने ही पैसे देने होंगे। अतः किसी को गाड़ी चलाने देना ज्यादा अच्छा रहेगा, क्योंकि उसे सड़क के नियम आदि भी अच्छी तरह से पता होंगे।

कार से[सम्पादन]

रात में कार चलाना, दिन में कार चलाने से काफी सुरक्षित है। लेकिन आपको रात में गाड़ी चलाते समय कुछ नियमों का पालन करना पड़ेगा, नहीं तो आप मुश्किल में आ सकते हैं।

  • शहर के मध्य में रात को गाड़ी न ले जाएँ, क्योंकि मध्य रात्रि को यहाँ के लगभग सभी लोग सोते रहते हैं और आपके गाड़ी के आवाज से वे लोग उठ सकते हैं, जो ठीक नहीं है।
  • सेना पर नजर रखें, हो सकता है कि आप रात में सफर कर रहें हों और कोई आपका अपहरण करने या परेशान करने आदि के लिए बैठा हो। ऐसा होते रहता है और इस बात का भी ध्यान रखें कि हो सकता है नाका में आपको भी अपराधी समझ लिया जाये। वे यदि किसी तरह का शक आप पर कर रहे होंगे तो जब तक शक दूर न हो जाये आपको जाने नहीं देंगे।
  • यदि आपकी मुलाकात सेना से हो जाती है तो अपने गाड़ी की रोशनी बंद न रखें। आपको जो भी निशान या निर्देश मिले, उसे करते रहें। जैसे रुकने के निशान दिखने से रुकें, हरे रंग के जाने के निशान देखने से आगे बढ़ें या कोई अन्य निशान दिखे तो उसके अनुसार कार्य करें। सभी सामान्य निर्देशों का पालन करना ही होता है।
  • यदि आप इराक में घूम रहे हैं और कई दोस्त भी बना लिए हैं, तो यदि वे आपको घूमने के लिए अपने साथ ले जाएँ तो ध्यान रखें कि वे कुर्दिस्तान प्रांत से आगे न जा रहे हैं।

भाषा[सम्पादन]

अरबी इराक की राष्ट्रीय भाषा है। इसके अलावा कुछ इलाकों में कुर्दिश भी बोली जाती है। वैसे यहाँ सामान्यतः अंग्रेजी भी समझ लिया जाता है, लेकिन आप यदि अंग्रेजी में बोल रहे होंगे तो सीधे ही सभी को पता चल जाएगा कि आप इराक से नहीं हैं और कोई हमलावरों को इसकी सूचना भी दे सकता है। सूचना का जाल काफी अधिक फैला हुआ है, इस कारण बहुत आसानी से हमला करने वालों को आपके बारे में जानकारी मिल जाएगी और वे आप पर हमला भी कर सकते हैं। अतः यदि आपको यहाँ घूमना हो तो आप अरबी सीख सकते हैं। आपके द्वारा हिन्दी पहले से जानने के कारण आपको अरबी सीखने में अधिक परेशानी नहीं होगी, क्योंकि इसके कई शब्द आपको पहले से पता हो सकते हैं। इसके अलावा यहाँ कुर्दिश भी बोला जाता है। लेकिन यह कुछ इलाकों में ही बोला जाता है।

देखें[सम्पादन]

बगदाद में अल-काधमिया मस्जिद का मुख्य आंगन

पिछले चालीस वर्षों में इराक में सभी सरकारों ने इराक में केवल विनाश ही किया है। इसके अलावा युद्ध ने भी इराक के यात्रा व्यवसाय को काफी चोट पहुँचाई है। प्राचीन और अपना वैभवशाली इतिहास रखने वाले क्षेत्रों में सुरक्षा और स्थिरता देखने को मिले यही कामना ही की जा सकती है, क्योंकि यह क्षेत्र इतिहास में रुचि रखने वालों के लिए स्वर्ग से कम नहीं है और पूर्ण सुरक्षा व्यवस्था के साथ यह एक अत्यंत आकर्षक पर्यटन स्थान बन सकता है।

यहाँ लगभग चार हजार वर्ष पुरानी कला आदि देखने को मिलती है। इसके अलावा मध्ययुगीन इस्लामी इतिहास और उसके बाद तुर्क का इतिहास व इसी के साथ साथ इक्कीसवीं शताब्दी का इतिहास भी देखने को मिलता है। लेकिन सरकार इसे बचाने और इसके पुनः निर्माण कराने में कोई रुचि नहीं ले रही है। इसे हुसैन सरकार ने पुनर्निर्माण करवाया था, लेकिन उसमें भी काफी लापरवाही हुई थी। जिस कारण इसका कोई खास लाभ नहीं हुआ। उर, सुमेरिया आदि कई प्राचीन शहर भी मौजूद हैं, जिन्हें क्षतिग्रस्त होने के बावजूद भी आप देख सकते हैं और यह क्षति के बावजूद भी शानदार दिख रहे हैं।

  • इमाम अली मस्जिद - इस मस्जिद को शहंशाह अदूद अल-दावला ने वर्ष 977 में बनाया था। बाद में आग के कारण यह बर्बाद हो गया था। 1086 में सेलजुक मलिक शाह ने इसे फिर बनाया और वर्ष 1500 में सफाविद शाह स्माइल ने इसे फिर बनवाया। लेकिन मार्च 1991 में इसे सद्दाम हुसैन के सुरक्षाकर्मियों ने काफी नुकसान पहुंचाया था। इसके बाद दो वर्षों के लिए इस मस्जिद को बंद कर दिया गया। इस दौरान आधिकारिक रूप से इसकी मरम्मत के लिए इसे बंद किया गया था।

खरीदें[सम्पादन]

मुद्रा[सम्पादन]

इराकी दीनार के लिए विनिमय दर

जनव 2019: के रूप में

  • US$1 ≈ IQD1200
  • €1 ≈ IQD1400
  • UK£1 ≈ IQD1500


विनिमय दर में उतार चढ़ाव। इन और अन्य मुद्राओं के लिए वर्तमान दरें उपलब्ध हैं। XE.com

यहाँ की मुद्रा का नाम इराकी दीनार है, जिसे "د.ع" चिह्न के साथ दिखाया जाता है। इसका आईएसओ कोड IQD है। इसके नोट में 5,000, 10,000, 25,000, 50,000 दीनार शामिल है। सिक्कों और 250 या 500 के नोट का उपयोग बहुत कम होता है।

दीनार के आधिकारिक मुद्रा होने के बावजूद भी आप यूरो या डॉलर में कई स्थानों पर खरीदी कर सकते हो। कई लोग बड़े नोट हेतु चिल्हर नहीं देना चाहते हैं। यदि आपके बिल में किसी भी प्रकार की गलती या हानि दिखी, जैसे आँसू के निशान, कुछ मिटा हुआ आदि तो हो सकता है कि लोग आपको धोकेबाज समझें। अतः पुराने बिल को अपने साथ न रखें और अपने दैनिक कार्यों में खर्च होने वाले छोटे बिलों को ही अपने साथ रखें। यदि हो सके तो इराकी दीनार वाले बिल रखें।

नए इराकी दीनार के आने के बाद इस देश इसका उपयोग बहुत तेजी से बढ़ गया और अब बहुत से हिस्सों में इसका ही उपयोग किया जाने लगा है। इसके मुकाबले अब अमेरिकी डॉलर का उपयोग बहुत ही कम हो गया है। कई दुकान वाले अब अमेरिकी डॉलर लेने से मना कर देते हैं। लेकिन कई लोग अब भी बड़े होटलों में बिल की राशि को अमेरिकी डॉलर में ही देते हैं। मुद्रा परिवर्तन की दर दिन प्रतिदिन या एक शहर से दूसरे शहर अलग अलग रहती है। लेकिन 2003 से हर वर्ष 65% तक मुद्रा परिवर्तन होता था, लेकिन 2008 के बाद से यह मात्र 11% ही प्रति वर्ष बदल रहा है।

यदि आपको यहाँ कुछ खरीदना है या पैसों का किसी प्रकार का लेनदेन करना है तो आपको इससे पहले नए दीनार और अमेरिकी डॉलर के सुरक्षा विशेषताओं को सीखना होगा। क्योंकि पिछली इराकी सरकार ने कई 5, 10, 20 डॉलर के आसानी से मिलने वाले बिल बना रखे हैं। इस कारण इसे बेचने वाले अभी भी इसे बेचने का व्यापार करते हैं और हो सकता है कि आप भी इनके जाल में फंस जाओ।

खाना[सम्पादन]

इराक में मसगौफ को राष्ट्रीय व्यंजन माना जाता है। मछली को साफ पानी से धो कर काटा जाता है और अच्छी तरह से भुंजने के बाद उसमें तेल, नमक आदि डाला जाता है। इसके साथ ही नींबू, प्याज और टमाटर भी डाल दिया जाता है।

  • क्लैचा (अरबी: الكليچة‎‎) - इसे इराक का राष्ट्रीय कुकी माना जाता है। यह कई अलग अलग आकार में मिलता है। इसमें क्लैचट तमूर सबसे अधिक प्रसिद्ध है। कुछ में मिठाई और नारियल आदि भी डाला जाता है। इसमें सुगंध और सजावट हेतु गुलाब जल और अंडे से भी इसे धोया जाता है। यह इराक के अलावा तुर्क और सऊदी अरब में भी मिलता है।
  • लहम अजीम (अरबी: لحم بعجين‎‎) गोल और पतला मटन होता है। जिसमें सब्जी और सलाद मिलाया जाता है। सलाद में प्याज, टमाटर आदि मिलाया जाता है। इसमें मसाले के रूप में काली मिर्च और जीरा आदि मिलाया जाता है। उसके बाद इसे पकाया जाता है। यह भोजन कई हजार वर्ष पूर्व से था, लेकिन पिछले कुछ दशकों में ही इसे प्रसिद्धि मिली है।
  • खिचड़ी - यह भारतीय मूल का भोजन है, इसे सामान्यतः हल्का भोजन माना जाता है।

पीना[सम्पादन]

यदि आप केवल थोड़ी देर के लिए इराक में आए हैं तो आपके लिए पानी पीना ठीक नहीं होगा। यदि पीते भी हैं तो बोतल के पानी का ही हमेशा उपयोग करें। वे ही बोतल जो विदेशों में बनी हो। विदेशों से यहाँ काफी बड़ी संख्या में बोतलों को बेचा जाता है और रख लिया जाता है, इस कारण आपको इस तरह की बोतलें आसानी से कहीं भी मिल जाएगी। कई इराक़ी कंपनी सीधे नदियों से पानी ले लेते हैं और ओजोनिकरण के पश्चात छान कर बोतल में रख देते हैं। इस तरह के पानी का स्वाद भी अच्छा नहीं होता है। इस तरह के पानी को पीने से बचें। गलियों में कई लोग आपको नींबू के साथ पानी दे सकते हैं, विदेशी लोगों के लिए पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

आप यहाँ चाय पी सकते हैं। यदि आपको लग रहा हो कि इसे वहाँ किस नाम से जाना जाता है तो इस बारे में चिंता न करें। इसे वहाँ भी चाय ही बोला जाता है। यहाँ चाय पीना कुछ लोगों के लिए सुरक्षित रहता है, क्योंकि इसे पीने से पहले उबाला जाता है। यदि आपको लग रहा हो कि गर्म नहीं किया गया है तो आप बोल सकते हैं कि गर्म पानी का ही उपयोग करें। गर्म पानी में कई प्रकार के प्रदूषण, जीवाणु और पानी से होने वाले बीमारी आदि का कोई खतरा नहीं रहता है। अभी भी आपको गर्म कर के ही पानी पीना चाहिए।

सोना[सम्पादन]

गर्मियों के मौसम में यहाँ सोना काफी कठिन है, क्योंकि यहाँ का तापमान रात में भी अधिक रहता है। यदि आप बाहर में कहीं पानी वाले स्थान पर जा सकते हैं, जहाँ पानी हिलते रहे जैसे, नदी आदि तो आपको सोने में आसानी होगी। वैसे इराकी कुर्दिस्तान में आराम करने और सोने के लिए कई होटल हैं, लेकिन आपको इसकी जानकारी किसी यात्रा मार्गदर्शक में नहीं मिल सकती। गली या सड़क में कोई आपको अवश्य ही पास के होटल में ले जा सकता है। कई स्थानों में जगह की कोई कमी नहीं है। इसके लिए आपको 15 से 25 डॉलर हर रात के लिए एक रहने और नहाने के कमरे के देने होंगे।

सम्मान करें[सम्पादन]

कभी भी अपने पैरों की परछाई को किसी दूसरे की तरफ न करें। इसे अधिकांश इराकी लोग बहुत ही अपमानित करने का तरीका मानते हैं। यदि आप अपने दोस्तों के साथ हो तो एक बार के लिए चल सकता है, लेकिन तब भी कोशिश करें कि किसी भी व्यक्ति के सामने अपने पैर की परछाई न आ सके। इसके अलावा सार्वजनिक स्थानों में या किसी के सामने थूकने से भी बचें। इसे भी बहुत बुरा और अपमान करने जैसा माना जाता है।

श्रेणी बनाएँ