म्यांमार

विकियात्रा से
Jump to navigation Jump to search
नक्शे में

म्यांमार (မြန်မာပြည်) या बर्मा एशिया के दक्षिण पूर्व की ओर स्थित एक देश है। यह बंगाल की खाड़ी से लगा हुआ है और अंडमान नदी से भी जुड़ा हुआ है। पश्चिम में यह भारत और बांग्लादेश से जुड़ा हुआ है और उत्तर में चीन से।

अन्य जानकारी[सम्पादन]

इतिहास[सम्पादन]

इसका इतिहास भारत से जुड़ा हुआ है। सम्राट अशोक के शासन काल के समय यह पूरा मगध साम्राज्य में अन्तर्भूत था। ब्रिटिश इंडिया से लेकर 1947 तक यह अंग्रेजों के आधिपत्य में था। भारत की स्वतन्त्रता के साथ ही यह एक देश बन गया। परन्तु इसे वास्तविक रूप में स्वतन्त्रता 1948 को मिली।

मौसम[सम्पादन]

म्यांमार में तीन तरह का ऋतु होता है। मार्च से अप्रैल तक मौसम बहुत गर्म रहता है। मई से अक्टूबर तक बारिश वाला मौसम हो जाता है और ठंड भी लगने लगता है। सबसे अधिक पर्यटकों के आने का समय शरद ऋतु में होता है। यहाँ नवम्बर से फरवरी तक काफी ठंड रहता है। गर्मी के समय यहाँ का तापमान 36 डिग्री तक रहता है और ठंड के समय अधिक तापमान 32 डिग्री तक ही पहुँच पाता है। म्यांमार का ऊपरी क्षेत्र यांगोन में इसके निचले क्षेत्र मंडलय के अपेक्षाकृत अधिक वर्षा होती है।

ऊपर के क्षेत्रों जैसे इन्ले झील के आस पास शरद ऋतु के समय तापमान रात को 10 डिग्री के पास पहुँच जाता है। वहीं दिन के समय तापमान सामान्य और खुशनुमा हो जाता है। ग्रीष्म ऋतु में भी यहाँ का तापमान मुश्किल से ही कभी 32 डिग्री के पार जाता है। भारतीय सीमा से लगे कचिन राज्य के पहाड़ों में लगभग हमेशा ही बर्फ गिरते रहता है।

भाषा[सम्पादन]

बर्मी भाषा इसकी आधिकारिक भाषा है। इसमें अधिक मात्रा में पालि भाषा से उच्चारण लिया गया है। लेकिन इसके शब्दों में चीनी भाषा का अधिक प्रभाव दिखता है। इसे बर्मी लिपि में लिखा जाता है। यह पहले के पालि लिपि पर आधारित है। इसमें अंकों को भी बर्मी लिपि में लिखा जाता है। इसमें इसके अलावा भी कई और भाषा बोलने वाले रहते हैं। पर्यटन क्षेत्र से जुड़े लोग अंग्रेज़ी भाषा का अच्छा ज्ञान रखते हैं।