यूरोप > ब्रिटेन और आयरलैण्ड

ब्रिटेन और आयरलैण्ड

विकियात्रा से
Jump to navigation Jump to search

ब्रिटेन और आयरलैण्ड मुख्य यूरोपीय भूमि के उत्तर-पश्चिम में स्थित ब्रितानी द्वीपों के दो मुख्य द्वीपसमूह हैं। इस द्वीपसमूह में छोटे-छोटे बहुत द्वीप शामिल हैं जिसमें आइल ऑफ़ मैन का ब्रितानी ताज अधीनस्थ भी शामिल है। चैनल आइलैंड्स भी ताज अधिनस्थ हैं अतः उन्हें भी यहाँ शामिल किया गया है हालांकि भौगोलिक रूप से वो द्वीपसमूह का भाग नहीं हैं; वो फ्रान्स के समूद्र तट के बहुत निकट स्थित हैं।

देश[सम्पादन]

यूनाइटेड किंगडम और आयरलैण्ड
यूनाइटेड किंगडम (इंग्लैण्ड, स्कॉट्लैण्ड, वेल्स, उत्तरी आयरलैण्ड)
इंग्लैण्ड की छोटी पहाड़ी शृंखला से, स्कॉटलैण्ड की सुन्दर घाटियाँ, उत्तरी आयरलैण्ड की जंगली तटरेखा, विश्व के सबसे बड़े साम्राज्य के रूप में विस्तृत राज्य का दिल जिसका इतिहास यहाँ समाहित है, रोमन विजय से पूर्व का बेमिसाल इतिहास रखने वाला और विविधता वाले नगर असंख्य मात्रा में अनन्त अवसर उपलब्ध करवाते हैं।
आयरलैण्ड
बहुत ही पहुँची हुई और आकर्षक इतिहास वाला ऐसा देश जिसका परिदृश्य आपको कभी भी भयभीत नहीं करता।

अधिकृत क्षेत्र[सम्पादन]

आइल ऑफ़ मैन
आयरिस सागर में ब्रितानी ताज अधिकृत क्षेत्र, यह ग्रेट ब्रिटेन और आयरलैण्ड के मध्य है।
चैनल द्वीप समूह (जर्सी, ग्वेर्नसे)
इंग्लिश चैनल में ब्रितानी अधिकृत द्वीपसमूह जो फ्रांस के नॉरमैंडी क्षेत्र के समुद्री तट पर स्थित हैं। इनकी नॉरमैंडी से काफी भाषाई समानता है।

नगर[सम्पादन]

ब्रिटेन और आयरलैण्ड का नक्शा
लंदन का क्षितिज
  • 1 बेलफ़ास्ट — उत्तरी आयरलैण्ड की राजधानी और यूनाइटेड किंगडम एवं आयरलैण्ड के मध्य का सांस्कृतिक संगम का क्षेत्र।
  • 2 बर्मिंघम — मध्य इंग्लैण्ड में स्थित, ब्रमिंघम मुख्य भुमिक्षेत्र का आर्थिक शक्तिघर। यह ब्रिटेन और आयरलैण्ड का दूसरा सबसे बड़ा नगर है।
  • 3 कार्डिफ़ — वेल्स की राजधानी, कार्डिफ़ जीवन्त और उत्तेजक नगर है।
  • 4 डबलिन — गिनीज और पश्चिमी रोमन कैथोलिक धर्म का घर, आयरलैण्ड की राजधानी, किसी सुन्दर चेहरे से भी बेहतर।
  • 5 एडिनबर्ग — इसे सामान्यतः उत्तर का एथेन्स कहा जाता है, यह स्कॉटलैण्ड की राजधानी है।
  • 6 ग्लासगो — स्कॉटलैण्ड का सबसे बड़ा नगर, जो एडिनबर्ग से ४० किलोमीटर दूरी पर स्थित है, इसे पश्चिमी ग्लेन्स और लोच का प्रवेशद्वार भी कहा जाता है।
  • 7 लिवरपूल — स्काउस बीटल्स और थ्री ग्रेसेस का घर।
  • 8 लंदन — वास्तव में प्रतिष्ठित, वैश्विक नगर, विभिन्न सभ्यताओं का संगम यूके की राजधानी और लगभग दो हज़ार वर्षों का इतिहास रखता है।
  • 9 मैन्चेस्टर — औद्योगिक क्रान्ति का जन्मस्थान, बर्मिंघम के बाद दूसरा नगर, मैन्चेस्टर जीवन्त और सम्पन्न गंतव्य स्थान है।

अन्य गंतव्य स्थान[सम्पादन]

दैत्य सेतुक, जो अपने उल्लेखनीय बेसाल्ट स्तम्भों के लिए जाना जाता है।
  • 1 अरण द्वीप – तीन द्वीपों से मिलकर बना क्षेत्र, दर्शनीय बंजर और पत्थरिले द्वीप।
  • 2 क्लिफ ऑफ मदर – चौदह किलोमीटर लम्बा समूद्र तट।
  • 3 दैत्य सेतुक — उत्तरी आयरलैण्ड का एकमात्र यूनेस्को स्थल, यहाँ पर ४०००० बेसाल्ट चट्टानें शानदार रूप में समुद्र के बाहर उभरी हुई हैं।
  • 4 गोवर प्रायद्वीप — दक्षिण पश्चिम वेल्स का एक प्राकृतिक सुन्दरता वाला मनोहक क्षेत्र, समुद्र तट पर टहलने वालों के लिए उत्तम क्षेत्र।
  • 5 ऐरैन द्वीप — "लघु स्कॉटलैण्ड" पहाड़ों, समुद्र, समुद्र-तट और जंगल से घिरा हुआ एवं भौगोलिक विविधता वाला क्षेत्र।
  • 6 लेक डिस्ट्रिक्ट नेशनल पार्क – उत्तर पश्चिम इंग्लैण्ड का सबसे बड़ा उद्यान क्षेत्र।
  • 7 नेस झील — स्कॉटलैण्ड की झीलों में सर्वश्रेष्ठ।
  • 8 पेम्ब्रोकेशिरे — ब्रिटेन का एकमात्र समुद्र किनारे वाला राष्ट्रीय उद्यान।
  • 9 स्नोडोनिया नेशनल पार्क – उत्तर पश्चिम वेल्स के पहाड़ी इलाके में स्थित पार्क।
  • 10 स्टोनहॅन्ज — दक्षिण इंग्लैण्ड के सेलिसबरी समतल में स्थित जो सर्दियों एवं गर्मियों के अयनकाल का तीर्थस्थान।

समझें[सम्पादन]

ब्रिटेन और आयरलैण्ड ग्रह के सबसे ज्यादा सबसे अधिक लोगों द्वारा देख गये स्थान हैं। यहाँ पर विश्व के सबसे अधिक पहचाने जाने वाले स्थान, हज़ारों वर्ष पुराने ऐतिहासिक स्थल और अद्वितीय प्राकृतिक परिवेश समाहित हैं। यहाँ पर प्रमुख नगर, विचित्र कस्बे विलगित क्षेत्र और द्वीप हैं।

ट्रैन, फेरी, हवाई जहाज, और सड़कें इन क्षेत्रों को आपस में जोड़ते हैं। अंग्रेजी भाषी पर्यटक यहाँ पर लोगों से आसानी से बात कर सकते हैं, महत्त्वपूर्ण संकेतों और मानचित्र से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और यहाँ के लोगों को जान सकते हैं।

बातचीत[सम्पादन]

वेल्स विश्व के सबसे लम्बे नाम नाले नगर का घर है...

अधिकतर लोग अपनी प्राथमिक भाषा के रूप में अंग्रेजी बोलते हैं। हालांकि पर्यटकों को यह जानकर आश्चर्य हो सकता है कि कुछ क्षेत्रो में स्थानीय बातचीत की प्रथम भाषा अंग्रेज़ी नहीं है जबकि स्थानीय केल्टिक भाषा को वरियता दी जाती है। वेल्स में ये सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है और वेल्स के कुछ इलाकों में रास्तों पर सबसे अधिक इसी भाषा को सुना जाता है। अयरिस, मैंक्स और स्कॉटिस गेलिक एक दूसरे से काफी जुड़ी हुई गेलिक भाषायें हैं जिनका मूल शब्दकोश भी लगभग समान है। कोर्निश भाषा विलुप्त होने के कगार पर है जिसे कॉर्नवाल के कुछ उत्साही पुनःस्थापित कर रहे हैं। चैनल द्वीपसमूह में अंग्रेज़ी के साथ फ्रांसीसी सह-भाषा के रूप में स्थापित है, यद्यपि यहाँ के अंग्रेज़ीभाषी निवासी वहाँ की तीन बोलियों जेरिसिस, ग्वेर्नसिया और सेक्वियस में से कोई एक बोलते हैं। हालांकि इस इलाके में सभी अंग्रेज़ी बोलते हैं और बहुत लोग अच्छे लहजे में अंग्रेज़ी भाषा बोलते हैं।

इस क्षेत्र में अच्छी अंग्रेज़ी बोलने में समर्थ पर्यटकों को किसी तरह की भाषाई समस्या नहीं होती। हालांकि यहाँ पर अंग्रेज़ी बोलने के स्थानीय लहजे हैं और यह अन्तर यहाँ के स्थानीय निवासियों के लिए असामान्य नहीं है और वो आसानी से एक-दूसरे को समझ पाते हैं। यह अंग्रेज़ी भाषा के विदेशी पर्यटक के लिए थोड़ा आसान हो जाता है क्योंकि लोग इस तरह के परिवर्तनों को समझने में सक्षम हैं। यदि आप किसी को समझ नहीं पाते हैं अथवा वो आपको नहीं समझ पाते हैं तो इसमें व्याकुल होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि यहाँ के स्थानीय लोगों को भी समय-समय पर यह समस्या देखने को मिलती है।

यहाँ पर अधिकतर आधिकारिक संकेत अंग्रेज़ी में हैं। कुछ इलाको में अंग्रेज़ी को स्थानीय भाषा के साथ काम में लिया गया है: आयरलैण्ड गणराज्य में आयरिस भाषा, हाइलैण्ड एवं हब्रिदेश में स्कॉटिश गेलिक और वेल्स में वेल्स भाषा। इन जगहों पर सड़कों पर मुख्य मुद्रन स्थानीय भाषाओं में किया गया है जिसके नीचे अथवा छोटे अक्षरों में तुल्य अंग्रेज़ी अर्थ भी लिखा होता है अथवा कुछ भी नहीं लिखा होता (जैसा की आयरलैण्ड के गेलेटैच्ट क्षेत्र में)। विदेशी भाषायें आधिकारिक संकेतों से अनुपस्थित है, हालांकि इसके अपवाद कुछ बंदरगाह इलाको में मिल सकते हैं जहाँ फ्रांसीसी, जर्मन और स्पेनिश भाषा भी मिल जाती हैं।

ब्रितानी द्वीप आप्रवासियों को अच्छी मात्रा में आकर्षित करता है जिससे अच्छी मात्रा में विश्व के विभिन्न समुदायों के लोग मिल जाते हैं और नगरों में अन्य भाषायें भी आसानी से सुनने में मिल जायेंगी।

प्रवेश[सम्पादन]

विश्व के व्यस्ततम में से एक हीथ्रो विमानक्षेत्र

पर्यटकों को अधिक उपयोगी जानकारी सम्बंधित क्ष्रेत्र के "प्रवेश" अनुभाग में मिल सकती है जिसमें उनकी अधिक रूचि होगी।

आप्रवास और विजा आवश्यकतायें[सम्पादन]

यहाँ पर उनके क्षेत्रों में जाने के लिए पाँच अलग-अलग आप्रभाव अधिकारक्षेत्र हैं: यूके, आयरलैण्ड, आइल ऑफ़ मैन और चैनल द्वीपों के लिए दो "बैलीविक्स"। वो अब भी उभयनिष्ठ यात्रा क्षेत्र का परिवेश रखते हैं जो विभिन्न प्राधिकारों के आपसी सहयोग और समन्वय को दिखाता है और विभिन्न सीमाओं को व्यापक स्तर पर परेशानी मुक्त सीमाओं को पार करते हुये अपनी यात्रा का आनन्द देते हैं।

यूके का विजा आइल ऑफ़ मैन और चैनल द्वीपों में वैध होता है लेकिन आयरलैण्ड ने अपना अलग विजा-निकाय बनाकर रखा है। यात्रियों को विशिष्ठ अधिकारक्षेत्रों की जाँच करने की आवश्यकता हो सकती है।

यह क्षेत्र शेंघन क्षेत्र में नहीं है लेकिन यूरोपीय संघ (ईयू) और यूरोपीय आर्थिक क्षेत्र (ईईए) नागरिकों को पर्यटकों की तरह थोड़े समय के लिए जाते समय विजा की आवश्यकता नहीं है। चैनल द्वीपों और अन्य आइल ऑफ़ मैन पर कार्यकारी अनुमति की आवश्यकता है।

हवाई यात्रा से[सम्पादन]

ब्रितानी द्वीपसमूह यूरोप की बड़ी बिना तामझाम की एयरलाइंस का गृह केन्द्र है, जैसे आयरिश रेयानयर।

यहाँ पर आइल ऑफ़ मैन के अतिरिक्त इस क्षेत्र के सभी भागों के लिए सीधी उड़ान हैं।

इस क्षेत्र में प्रवेश के लिए सबसे बड़ा विमानपत्तन लंदन हीथ्रो हवाई अड्डा है। यह केन्द्रीय लंदन से १५ मील पश्चिम में स्थित है, हीथ्रो अंतरराष्ट्रीय गंतव्यों में लगभग विश्व के सभी देशों से बहुत अधिक मात्रा में विकल्प उपलब्ध करवाता है। इस क्षेत्र में भविष्य के विभिन्न जुड़ाव सम्भव हैं। ग्रेट ब्रिटेन की मुख्य भूमि से अन्य स्थानों के स्थानीय जुड़ाव भी अच्छे हैं। हीथ्रो से लंदन की रेलसेवा भी अच्छी है; हालांकि यहाँ से ग्रेट ब्रिटेन के अन्य भागों को जोड़ने की कोई सीधी सेवा नहीं है, लंदन में अथवा किसी अन्य स्टेशन से रेलगाड़ी बदलना आवश्यक है जो शटल सेवा से जुड़ी हुई हैं।

हीथ्रो सुदूर दक्षिण पूर्व में स्थित है अर्थात् अन्य स्थानों पर जाने वाले यात्रियों को अपने विशिष्ठ गंतव्य स्थान की सीधी उड़ान लेनी चाहिए। हालांकि विश्व के कुछ भागों से यहाँ प्रवेश करने का हीथ्रो एकमात्र वास्तविक विकल्प हो सकता है तब ऐसी स्थिति में आगे की यात्रा के इंतजाम करना आवश्यक हो जाता है।

अन्य हवाई अड्डों बर्मिंघम, डबलिन, एडिनबर्ग, गैटविक, ग्लासगो, मैनचेस्टर, न्यूकैसल और शैनन विभिन्न लम्बी दूरी की उड़ानों और यूरोपीय क्षेत्रों को जोड़ते हैं।

रेलयात्रा से[सम्पादन]

चैनल सुरंग इंग्लैण्ड और फ़्रान्स को जोड़ती है तथा यहाँ पर्याप्त मात्रा में यात्रियों और कारों के परिवहन का कार्य होता है।

नाव से[सम्पादन]

ब्रितानी द्वीपों पर जाने के परम्परागत तरिकों की जानकारी के लिए ब्रितानी मुख्यभूमि के लिए फेरियाँ देखें।

इधर-उधर जाना[सम्पादन]

सामान्य यात्रा क्षेत्र[सम्पादन]

आयरिस गणराज्य और उत्तरी आयरलैण्ड के मध्य की सड़क सामान्यतः उल्लेखनीय नहीं है।

यूनाइटेड किंगडम, आयरलैण्ड , द आइल ऑफ़ मैन और चैनल द्वीप समूह मिलकर सामान्य यात्रा क्षेत्र बनाते हैं जो यूरोपीय महाद्वीप में शेंगेन क्षेत्र जैसा है। व्यापक रूप में कहा जाये तो यहाँ की सीमायें अन्य अन्तर्राष्ट्रीय सीमाओं की तुलना में बहुत आम हैं।

आयरलैण्ड और यूनाइटेड किंगडम कई दशकों से अलग देश रहे हैं लेकिन अधिकतर मुद्दों पर दोनों भागों में इसको लाभदायक माना जाता है कि सीमायें खुली रखी जायें। हालांकि, चूँकि इसका विकास बहुत वर्षों में हुआ, जिसमें सामान्य यात्रा क्षेत्र प्रबन्धन को अन्य समरूप प्रबन्धनों (जैसे शेंगेन क्षेत्र) की तरह सूत्रित नहीं किया जा सका अतः अन्य देशों के लोगों के लिए सही नियमावली काफी जटिल हो सकती है।

  • "कॉमन ट्रेवल एरिया" के देशों के लोग बिना किसी पासपोर्ट के किसी भी क्षेत्र में घूम सकते हैं, हालांकि उनसे उनके पहचान पत्र को माँगा जा सकता है।
  • यूरोपीय आर्थिक क्षेत्र के लोग किसी भी देश में घूम सकते हैं लेकिन उन्हें साथ में कोई पहचान पत्र अथवा पासपोर्ट रखना आवश्यक है।
  • वो अन्य देश जहाँ के लोगों को विजा की आवश्यकता नहीं होती और वो एक क्षेत्र (जैसे इंग्लैण्ड) में आप्रवासन जाँच से गुजर चुके हैं तो उन्हें दूसरे भाग (जैसे आयरलैण्ड) में जाने के लिए विजा की आवश्यकता नहीं है लेकिन उन्हें एक वैध पासपोर्ट साथ में रखना आवश्यक है।
  • विजा की आवश्यकता रखने वाले लोग जब इस क्षेत्र में प्रवेश करते हैं तो उन्हें अलग-अलग देश में जाने के लिए अलग-अलग विजा लेना आवश्यक है। हालांकि दोनों देश लगभग एक जैसे विजा नियम रखते हैं लेकिन यह याद रखना महत्त्वपूर्ण है कि शेंगेन के विपरीत यहाँ पर यूनाइटेड किंगडम और आयरलैण्ड अलग-अलग विजा प्रणाली रखते हैं।

सामान्य रूप में, यदि आपके पास पासपोर्ट अथवा यूरोपीय संघ का पहचान पत्र है तो आप इसको पहचान पत्र के रूप में साथ लेकर बिना किसी समस्या के घूम सकते हैं। इसके अतिरिक्त आपको एयरलाइन अथवा फेरी (जिससे भी यात्रा करते हैं) के पहचान पत्र आवश्यकताओं को देखना जरूरी है।

क्रय करें[सम्पादन]

यूनाइटेड किंगडम और इसके ताज अधीनस्थ (महारानी के ताज के अधीन आने वाले) क्षेत्रों में मुद्रा के रूप में पाउंट स्टर्लिंग (£) काम में लिया जाता है जबकि आयरलैण्ड की मुद्रा यूरो (€) है। कुछ सीमित अपवादों को छोड़कर इस क्षेत्र में इनके प्रशासित क्षेत्रों में अन्य कोई मुद्रा काम में नहीं ली जा सकती।

यूनाइटेड किंगडम और ताज अधीनस्थ[सम्पादन]

यहाँ की स्थानीय मुद्रा स्टर्लिंग है। यूरो कुछ सीमान्त इलाकों में स्वीकार किया जाता है; उदाहरण के लिए आयरलैण्ड के निकट सीमान्त क्षेत्र अथवा कुछ आयरलैण्ड द्वारा दिये गये फेरी टर्मिनल वाले व्यावसायिक केन्द्र।

बैंक नोट[सम्पादन]

मुख्य भूमि यूके और जर्सी पाउंट स्टर्लिंग नोटों के लिए अलग-अलग एटीएम

यूनाइटेड किंगडम में चलने वाले अधिकतर नोट बैंक ऑफ़ इंग्लैण्ड द्वारा जारी किये जाते हैं। स्कॉटलैण्ड, उत्तरी आयरलैण्ड और ताज अधीनस्थ सभी के अपने स्थानीय बैंक नोट हैं। सभी पाउंट स्टर्लिंग हैं।

पाउंट स्टर्लिंग काम में लेने वाले सभी क्षेत्रों में बैंक ऑफ़ इंग्लैण्ड के नोट बिना किसी रुकावट के काम में लिए जाते हैं। सामान्यतः कम राशी वाले नोट काम में लेना बहुत आसान है, लेकिन ऐसा सम्भव है कि उनके क्षेत्र के अलावा उनको स्वीकार न किया जाये। सभी बैंक, बैंक ऑफ़ इंग्लैण्ड अथवा अन्य किसी स्थानीय बैंकों (उदाहरण के लिए स्कॉटलैण्ड में स्कोटिश नोट) के कम मूल्य के नोटों के विनिमय की मुफ्त सुविधा देते हैं।

किसी भी यात्रि को यूके अथवा ताज अधीनस्थ क्षेत्र को छोड़ने से पहले कम मूल्य के पाउंट स्टर्लिंग नोटों का विनिमय बैंक ऑफ़ इंग्लैण्ड से कर लेना चाहिये क्योंकि अन्य देशों में उनका विनिमय मुश्किल हो सकता है। इसका अपवाद यह है कि उत्तरी आयरलैण्ड स्टर्लिंग के नोट आयरलैण्ड में बहुत आसानी से यूरो में विनिमय किये जा सकते हैं।

अधिक मूल्य वर्ग के बैंक नोट (५० और अधिक) दुकानों में हमेशा स्वीकृत नहीं किये जाते, सामान्यतः कम मूल्य की खरीददारी पर यह समस्या आती है। कोई भी बैंक इन नोटों को छोटे मूल्य के नोटों में बदल देगा।

सिक्के[सम्पादन]

यूनाइटेड किंगडम में जारी किये जाने वाले सिक्के केन्द्रीकृत रूप से रॉयल मिंट द्वारा जारी किये जाते हैं और यद्यपि इनकी बनावट इंग्लैण्ड, उत्तरी आयरलैण्ड, स्कॉटलैण्ड तथा वेल्स की विशिष्ट है। वो सभी यूके में सभी जगह मान्य हैं।

ताज अधिनास्थ और अन्य बाहरी शासित क्षेत्र (जैसे फॉल्कलैण्ड द्वीपसमूह और गिब्राल्टर) अपने स्थानीय स्वरूप के सीक्के जारी करते हैं और वो सामान्यतः उनके स्थानीय शासित क्षेत्रों में ही प्रसारित होते हैं। ये सीक्के वजन, आकार, मोटाई और धातु में मुख्यभूमि यूके के सिक्कों के समान रखे जाते हैं जो स्थायी सिक्कों के ही अन्य संस्करण जैसे होते हैं। हालांकि ये निश्चित रूप से हर जगह स्वीकृत नहीं होते और कुछ विक्रेता इन्हें लेने से मना कर देते हैं। बैंक इनका विनिमय बिना किसी समस्या के कर देते हैं अतः सामान्य स्वीकृति प्राप्त होने के कारण इसकी आवश्यकता नहीं पड़ती और ये विक्रय मशीनों द्वारा स्वीकृत किये जाते हैं।

आयरलैण्ड[सम्पादन]

केवल यूरो को ही स्वीकृत मुद्रा माना जाता है। स्टर्लिंग कुछ सीमान्त इलाकों में स्वीकृत किया जा सकता है उदाहरण के लिए फेरी बन्दरगाह अथवा उत्तरी आयरलैण्ड की भौगोलिक सीमा। डबलिन और बेलाफ़ास्ट के मध्य पूरी यात्रा की ट्रेनों (उदाहरण के लिए भोजन-यान) में सामान्यतः दोनों मुद्रायें स्वीकृत की जाती हैं। यूरो बैंक नोटों में कोई भी स्थानीय बदलाव नहीं मिलता। यूरो सिक्कों के पिछले हिस्से में क्षेत्रिय आधार पर कोई बदलाव देखने को नहीं मिलता। उनके उपरी भाग पर सदस्य राष्ट्र का राष्ट्रीय चिह्न पाया जाता है। इससे यूरोक्षेत्र में उनकी वैधता पर कोई असर नहीं पड़ता। सिक्के पसन्द करने वालों को शायद इसमें खुशी मिले कि आयरलैण्ड का अन्य यूरोक्षेत्र से आपेक्षिक विलगाव इसके सिक्कों में कम विविधता वाला लगे जिसे इसके चिह्न से पहचाना जा सके। उदाहरण के लिए लक्ज़मबर्ग

देखें[सम्पादन]

यूनाइटेड किंगडम[सम्पादन]

आयरलैण्ड[सम्पादन]

करो[सम्पादन]

गोल्फ़[सम्पादन]

भोजन[सम्पादन]

पेय[सम्पादन]

पब[सम्पादन]

कॉफ़ी की दुकान[सम्पादन]

विस्की[सम्पादन]

गिन (और टोनिक)[सम्पादन]

सुरक्षित रहें[सम्पादन]

आगे जायें[सम्पादन]