आइहा

विकियात्रा से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

आइहा लेबनोन में स्थित एक गाँव है। इसे हसबानी का झरना भी कहते हैं, जो जॉर्डन नदी के कारण होता है। इसके अलावा इसे कुछ समय की गीली ज़मीन भी बोला जाता है। यहाँ कराओन वंश ने पहाड़ों को काट काट कर कई मंदिरों का निर्माण कराया था। इसके अलावा यहाँ कई अन्य संस्कृतियों के निशान भी मौजूद है।

अन्य जानकारी[सम्पादन]

इतिहास[सम्पादन]

अठारहवीं सदी से पहले कई आक्रमणकारियों और व्यापार करने के उद्देश से आने वाले लोगों ने इस जगह पर प्रवेश किया और अपनी संस्कृति के ढेर सारे निशान छोड़ दिये। वर्तमान में उन जगहों पर आधे से अधिक कलाकृति अब टूटे फूटे पत्थरों में तब्दील हो चुकी है।

मौसम[सम्पादन]

यह गाँव समुद्र तल से लगभग 3,750 फीट (1,140 मीटर) ऊपर स्थित है। यहाँ उरर्टु नामक जंगली पौधों का काफी विकास हुआ है। इसे बकरियों को खिलाने के लिए उपयोग किया जाता है। यह गाँव झील के किनारे स्थित है, जो करीब 2 मील (3.2 किलोमीटर) व्यास में है। यह पश्चिम में पहाड़ों से घिरा हुआ है। इस झील में पानी का स्तर देखने के का कोई तरीका नहीं है। बारिश के कारण यहाँ अक्सर बाढ़ें आ जाती हैं। झील का निर्माण पानी के फव्वारे द्वारा हुआ है। उत्तर-पश्चिम में कई बड़ी खाइयाँ हैं, और दक्षिण-पूर्व में कई ऐसे स्थान है, जहाँ पानी के फव्वारे निकल सकते हैं। यहाँ दावा किया जाता है कि यहाँ कोई स्थायी धारा प्रवाह भी होता है।

यात्रा[सम्पादन]

विमान द्वारा[सम्पादन]

इसके बहुत छोटे से गाँव होने के कारण यहाँ आपको किसी भी प्रकार की विमान सेवा नहीं मिल सकती है। हाँ, यदि आप चाहें तो हेलीकाप्टर या निजी विमान किराय पर या आपके पास हो तो आपका अपना विमान ला सकते हैं। इसके दूर दूर तक आपको कोई हवाई अड्डा नहीं मिलेगा।

रेल द्वारा[सम्पादन]

यह इतना विकसित नहीं हुआ है कि आपको कोई रेल सुविधा यहाँ मिल सके। यहाँ रेल की पटरियाँ तक उपलब्ध नहीं है। हो सकता है कि कुछ वर्षों के बाद यहाँ रेल सुविधा भी आ जाये, परन्तु वर्तमान में ऐसी कोई भी सुविधा नहीं है, जिससे आप इस गाँव में रेल द्वारा आ सकें। इस गाँव में भी कहीं भी रेल नहीं चलता है।

नाव द्वारा[सम्पादन]

यह एक बड़ा रेगिस्तानी क्षेत्र है, इस कारण आपको यहाँ उतना बड़ा जलीय क्षेत्र नहीं मिल सकता, जहाँ आप नाव चला सकें। यदि आप इस गाँव में भी आ जाएँ तो भी आपको कहीं नाव की सुविधा नहीं मिलेगी। यहाँ आने का सबसे अच्छे तरीकों में सड़क द्वारा आना ही है। लेकिन बारिश के दिनों में आप अवश्य नाव का उपयोग कर सकते हैं। केवल तभी, जब बारिश से बाढ़ आया हो।

देखें[सम्पादन]

बिका या बेका में गीला मैदान
  • बिका घाटी - (अरबी: وادي البقاع वादी अल-बिका) आइहा में आने वाले लोग, इसे देखना बहुत पसंद करते हैं और इसे देखे बिना वापस नहीं जाते। क्योंकि यह गाँव बिका घाटी में ही स्थित है। यह दो पर्वत श्रृंखलाओं के मध्य स्थित है। इस घाटी में देखने के लिए बहुत से स्थान हैं। आमिक का गीला मैदान और करून झील भी इसी घाटी में स्थित हैं।


खरीदना[सम्पादन]

कुछ भी खरीदने के लिए आपको लेबनोन पाउंड की आवश्यकता होगी। यहाँ शराब का कारोबार काफी फैला हुआ है और विकसित है। यहाँ इसकी भूमि और वातावरण इस तरह का है कि यहाँ इसका खेती बहुत अच्छे से होती है और शराब बनाने के लिए भी अच्छी जगह है। अतः यदि आप शराब के शौकीन हैं तो आप यहाँ से शराब खरीद सकते हैं।

इसके अलावा यह जगह खेती के लिए अधिक जाना जाता है। यहाँ कई तरह की खेती होती है। शराब बनाने के लिए अंगूरों की खेती भी करते हैं। यहाँ का वातावरण भी इन सभी खेती के कार्यों के लिये सही है। अतः आप चाहें तो फल और सब्जियों को भी खरीद सकते हैं। लेकिन यदि आप किसी खाने या पीने का सामान नहीं खरीदना चाहते तो आप अपना मनोरंजन इन जगहों के दृश्यों को देख कर कर सकते हैं।

खाना[सम्पादन]

यह एक उजड़ा हुआ गाँव है तो ऐसी आशा न करें कि आपको यहाँ कुछ अच्छा खाने को मिल सकता है। यदि आप यहाँ घूमने आए हैं तो आपके लिए यही अच्छा होगा कि आप अपने साथ कुछ खाने का समान भी अवश्य ले आयें, क्योंकि हो सकता है कि आपको यहाँ कुछ भी खाने को न मिले।

यह एक छोटा सा टूटा फूटा गाँव है तो आपको यहाँ कोई भोजनालय भी नहीं मिलेगा। इस तरह के कई कारणों से यहाँ पर्यटक भी बहुत कम ही आते हैं। जिन लोगों को टूटे फूटे पत्तरों में कला कृति देखने और इतिहास जानने का शौक होता है वहीं लोग यहाँ आते हैं। अन्य सभी तरह के पर्यटक इस जगह से दूरी बना लेते हैं।

पीना[सम्पादन]

शराब बनाने का की परंपरा लेबनोन में लगभग 6000 साल पुरानी है। यह औसतन समुद्र के स्तर से लगभग एक हजार मीटर ऊपर रहता है। इस कारण शराब बनाने के लिए इसे काफी अच्छा वातावरण मिलता है। इसके अलावा सर्दियों में प्रचुर मात्रा में बारिश होने और गर्मियों में अच्छी धूप के कारण अंगूर आसानी से पक जाते हैं। यहाँ दर्जनों शराब बनाने वाले मिल जायेंगे, अतः आपको यहाँ शराब की कोई कमी नहीं होगी। यह जिस घाटी में स्थित है, वहाँ सालाना 6 करोड़ से अधिक बोतल शराब का निर्माण होता है।

सोना[सम्पादन]

यह एक बहुत ही छोटा गाँव है, इस कारण आपको सोने के लिए यहाँ कोई निवास स्थान नहीं मिल सकेगा। पर आप इसके पास राशया नामक स्थान पर रुक सकते हैं।